28 C
Kanpur
Sunday, March 7, 2021

‘हिंदी का भला इसी में है कि उसको फौरन राजभाषा पद से हटा दिया...

‘लय के नाविक’ के रूप में प्रसिद्ध हिंदी के वरिष्ठ कवि नरेश सक्सेना से कृष्ण प्रताप सिंह की बातचीत. ‘लय के नाविक’ के रूप में...

‘अपनी रचनाओं में स्त्रियों के लिए जो टैगोर, शरतचंद ने किया, वो अब के...

साक्षात्कारः हिंदी की वरिष्ठ लेखिका और साहित्यकार ममता कालिया का कहना है कि स्त्री विमर्श के लिए हमें सिमोन द बोउआर तक पहुंचने से पहले...

Warning: curl_exec() has been disabled for security reasons in /home/sankalpnews/public_html/wp-content/plugins/custom-twitter-feeds/inc/CtfOauthConnect.php on line 214

Warning: count(): Parameter must be an array or an object that implements Countable in /home/sankalpnews/public_html/wp-content/plugins/custom-twitter-feeds/inc/CtfFeed.php on line 884

Warning: curl_exec() has been disabled for security reasons in /home/sankalpnews/public_html/wp-content/plugins/custom-twitter-feeds/inc/CtfOauthConnect.php on line 214