‘अभिनंदन’ को लेकर राजनीति शुरू, UPA के शासनकाल में बने साहसी पायलट-सलमान खुर्शीद

0
8

नई दिल्ली। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में वायुसेना की स्ट्राइक और दुश्मन देश से सुरक्षित लौट आए वायुसेना के पायलट अभिनंदर वर्तमान को लेकर देश में राजनीति शुरू हो गई है। एक तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे हैं, वहीं इसी पार्टी के दूसरे वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद को इस बात का फक्र है कि अभिनंदन यूपीए शासन में फाइटर पायलट बने।

खुर्शीद ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘दुश्‍मन की आक्रामकता के सामने भारतीय प्रतिरोध के चेहरे विंग कमांडर अभिनंदन को बहुत-बहुत बधाई। संकट के समय उन्‍होंने शानदार संतुलन और आत्‍मविश्‍वास दिखाया। हमें इस बात का गर्व है कि वे 2004 में एयरफोर्स में शामिल हुए और संयुक्‍त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) के शासनकाल के दौरान एक मैच्‍योर फाइटर पायलट बने।’

खुर्शीद के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है। यूजर्स यही सलाह दे रहे हैं कि कम से कम सेना के नाम पर तो राजनीति ना हो।

दिग्विजय सिंह ने मांगे सबूत, इमरान की तारीफ की
इससे पहले शनिवार को मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने इंदौर में कहा कि यदि कोई सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग रहा है तो भारत सरकार को सबूत देकर उनका मुंह बंद कर देना चाहिए। इतना ही नहीं विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की रिहाई के लिए उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को बधाई दी।

इंदौर के डेली कॉलेज के एल्यूमिनी मीट के लिए इंंदौर आए दिग्विजय सिंह ने भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव को लेकर पूछे गए सवालों पर कहा कि जब जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली उसके बावजूद पाकिस्तान को कौन से सबूत चाहिए। पाकिस्तान को अपनी सरजमीं पर आतंकवाद की सरपरस्ती को बंद करना चाहिए। जैश द्वारा इस घटना की जिम्मेदारी लेने के बाद पाकिस्तान को चाहिए था कि वो मसूद अजहर और हाफीज सईद को गिरफ्तार कर भारत को सौंपता।

27 फरवरी को पाक ने पकड़ लिया था भारतीय पायलट
बता दें कि अभिनंदन वर्तमान को पाकिस्तानी अधिकारियों ने 27 फरवरी को पकड़ लिया था। पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के साथ हुई एक झड़प के दौरान उनका मिग 21 गिर गया था। लेकिन उन्होंने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तानी वायुसेना के एफ – 16 को मार गिराया था।

अमृतसर-वाघा सीमा पर शुक्रवार रात 9 बजकर 21 मिनट पर पाकिस्तान ने अभिनंदन को भारत को सौंपा। जांबाज सैनिक की तरह सिर ऊंचा किए दृढ़ता के भाव लिए पाक सीमा से अभिनंदन ने जैसे ही भारतीय सरजमीं पर कदम रखा मातृभूमि लौटने की खुशी उनके चेहरे पर मुस्कान के रूप में सामने आयी। इसके बाद विंग कमांडर करीब दस बजे अभिनंदन अमृतसर से दिल्‍ली के लिए रवाना हुए। उन्‍हें विशेष विमान से दिल्‍ली लाया गया। यहां उनका राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल में उनका मेडिकल किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here