सर्वे: राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ हार रही है बीजेपी, तीनों राज्यों में कांग्रेस की वापसी

0
121

चुनाव आयोग ने शनिवार को पांच राज्यों राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना में 12 नवंबर से सात दिसंबर के बीच विधानसभा चुनाव कराने की घोषणा कर दी.

चुनाव आयोग ने शनिवार को पांच राज्यों राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना में 12 नवंबर से सात दिसंबर के बीच विधानसभा चुनाव कराने की घोषणा कर दी. छत्तीसगढ़ में दो चरणों में 12 नवंबर और 20 नवंबर को मतदान होगा. मध्य प्रदेश और मिजोरम में एक ही चरण में 28 नवंबर को और राजस्थान एवं तेलंगाना में सात दिसंबर को मतदान कराये जाएंगे. सभी पांचों राज्यों में एक साथ 11 दिसंबर को मतगणना होगी और नतीजे इसी दिन आएंगे. चुनाव कार्यक्रम घोषित होते ही इन राज्यों में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है. चुनाव की तारीखों के एलान के बाद बीजेपी और कांग्रेस ने अपनी-अपनी जीत का दावा किया है. इस बीच ABP news ने एक सर्वे किया है जिसमें दावा किया गया है कि बीजेपी राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ हार रही है.वहीं कांग्रेस सत्ता में वापसी कर रही है.

राजस्थान
ABP news के ओपिनियन पोल के अनुसार 200 सीटों वाले राजस्थान में बीजेपी को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. 2013 में 163 सीटें जीतने वाली पार्टी 56 सीटों पर सिमट सकती है. वहीं कांग्रेस को 142 सीटें मिल सकती है. सर्वे में कहा गया है कि अन्य पार्टियों को एक से दो सीटें मिल सकती हैं. 7 दिसंबर को होने वाले चुनाव में बीजेपी को तगड़ा झटका लग सकता है. कांग्रेस को जहां 49.9 प्रतिशत वोट मिलता दिख रहा है वहीं बीजेपी को सिर्फ 34 प्रतिशत वोट मिल रहे हैं.

पिछले चुनाव की बात करें तो बीजेपी ने एक तरफा जीत हासिल की थी. उसे 81.5 फीसदी वोटों के साथ कुल 163 सीटों पर जीत मिली थी. इसके बाद दूसरे नंबर कांग्रेस थी, जिसे 10.5 फीसदी वोट शेयर के साथ सिर्फ 21 सीटें मिली थी. चौंकाने वाली बात रही थी कि राज्य में 7 निर्दलीय प्रत्याशी जीते थे. नेशनल पिपल पार्टी को 4 और बीएसपी को तीन सीटें मिली थी. एनयूजेडपी को भी 2 सीटें मिली थी.

मध्य प्रदेश
ओपिनियन पोल के अनुसार मध्य प्रदेश में कांग्रेस और बीजेपी के बीच नजदीकी लड़ाई है लेकिन यहां भी कांग्रेस को क्लियर मैंडेट मिलता दिख रहा है. 230 सीटों वाले एमपी में बीजेपी को 108 तो कांग्रेस को 122 सीटें मिलती दिख रही हैं. राज्य की कमान कमलनाथ को देने के बाद कांग्रेस को इसका फायदा मिलता दिख रहा है. हालांकि वोट शेयर के मामले में दोनों पार्टियां बीजेपी और कांग्रेस काफी नजदीक हैं. बीजेपी को जहां 41.5 प्रतिशत वोट मिल रहा है वहीं कांग्रेस को 42.5 प्रतिशत वोट मिल रहा है.

साल 2013 के चुनाव में बीजेपी को 165 सीटें मिली थीं. उसके वोट शेयर पर बात करें तो कुल 44.88 फीसदी लोगों ने बीजेपी के पक्ष में मतदान किया था. दूसरी तरफ कांग्रेस को सिर्फ 58 सीटें मिली थीं. हालांकि, वोट शेयर में वह 36.38 फीसदी रही थी. तीसरे नंबर पर बीएसपी थी और उसे 6.29 फीसदी वोट शेयर के साथ कुल 4 सीटें मिली थी. वहीं, 3 निर्दलीय प्रत्याशी भी इस चुनाव में जीत कर आए थे.

छत्तीसगढ़
वहीं छत्तीसगढ़ में एक बार फिर नेक टू नेक फाइट है. हालांकि कांग्रेस को बढ़त मिलती दिख रही है. सर्वे के अनुसार बीजेपी को 40 सीटें मिल रही हैं. 2013 के चुनाव में बीजेपी को 49 सीटें मिली थीं. यहां विधानसभा की 90 सीटें हैं. वहीं कांग्रेस के सीटों का आंकड़ा 39 से 47 पहुंच रहा है.

साल 2013 के चुनाव की बात करें तो बीजेपी को 49 सीटें मिली थीं और 54.44 फीसदी वोट शेयर थे. वहीं, कांग्रेस 43.33 फीसदी वोट शेयर के साथ 39 सीटें मिली थीं. एक निर्दलीय को और एक बहुजन समाजवादी पार्टी जीतने में सफल रही थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here