जानें कौन थीं ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’, फिल्म के पहले पोस्टर में दिखा आलिया का दमदार लुक

0
67

बॉलीवुड के बड़े निर्देशकों की लिस्ट में शामिल संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ का पहला मोशन पोस्टर मंगलवार को रिलीज किया गया। मोशन पोस्टर सोशल मीडिया पर साझा करने के साथ ही वायरल हो गया। फिल्म में आलिया भट्ट ‘गंगूबाई’ की भूमिका में नजर आएंगी। फिल्म का नाम सामने आने के साथ ही आपने भी जरूर सोचा होगा कि आखिर कौन हैं गंगूबाई, जिसका फिल्मी पर्दे पर रोल अदा करेंगी आलिया भट्ट। आलिया ने इस फिल्म का फर्स्ट लुक अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर किया है। यह फिल्म 11 सितंबर को रिलीज हो सकती है। इसके निर्माता भंसाली और जयंतीलाल गढ़ा हैं। आलिया भट्ट के अलावा फिल्म की बाकी कास्ट की कोई जानकारी नहीं आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म में अजय देवगन की स्पेशल अपीयरेंस होगी, वहीं कॉमेडी रोल्स के लिए मशहूर विजय राज फिल्म में अहम भूमिका में नजर आ सकते हैं।

बता दें कि संजय लीला भंसाली की आखिरी फिल्म ‘पद्मावत’ थी जिसमें दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर ने लीड रोल प्ले किया था।

जानें कैसा है गंगूबाई काठियावाड़ी का फर्स्ट लुक

आलिया ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर दो फोटोज शेयर किए हैं। एक फोटो में वो साड़ी पहने, माथे पर लाल बिंदी और बड़ी नोजपिन पहने दिख रही हैं तो वहीं दूसरे लुक के लिए आलिया ने दि-ग्लाम अवतार लिया है। बीच की मांग निकाले दो चोटी, हाथ में चूड़ी और मोटा काजल लगाए आलिया काफी खूबसूरत लग रही हैं। वहीं पोस्टर में आलिया भट्ट के लिए माफिया क्वीन लिखा गया है। हो सकता है फिल्म के लिए आलिया माफिया डॉन बनी हो। सोशल मीडिया पर भी आलिया के दोनों लुक को काफी पसंद किया जा रहा है।

कौन थीं गंगूबाई काठियावाड़ी

लेखक एस हुसैन जैदी की किताब ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’  के मुताबिक गंगूबाई गुजरात के कठियावाड़ की रहने वाली थीं, जिसके चलते उनको गंगूबाई कठियावाड़ी कहा जाता था। छोटी उम्र में ही गंगूबाई को वेश्यावृति के लिए मजबूर किया गया। वहीं बाद में कुख्यात अपराधी गंगूबाई के ग्राहक बने। गंगूबाई मुंबई के कमाठीपुरा इलाके में कोठा चलाती थीं। वहीं गंगूबाई ने सेक्सवर्कस और अनाथ बच्चों के लिए बहुत काम किया था।

ये था गंगूबाई काठियावाड़ी का असली नाम

गंगूबाई कठियावाड़ी का असली नाम गंगा हरजीवनदास काठियावाड़ी था। गंगूबाई बचपन में अभिनेत्री बनना चाहती थीं। करीब 16 साल की उम्र में उन्हें अपने पिता के अकाउंटटेंट से प्यार हो गया और शादी करके वो मुंबई भाग कर चली गईं। बड़े-बड़े सपने देखने वालीं गंगूबाई ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि उनका पति ही उन्हें धोखा देकर महज पांच सौ रुपये में कोठे पर बेच देगा। जैदी की किताब में माफिया डॉन करीम लाला का भी जिक्र किया गया है। किताब के मुताबिक, करीम लाला की गैंग के एक सदस्य ने गंगूबाई के साथ बलात्कार किया था। जिसके बाद इंसाफ की मांग के लिए गंगूबाई करीम लाला से मिलीं और राखी बांधकर अपना भाई बना लिया। करीम लाला की बहन होने के चलते जल्दी ही कमाठीपुरा की कमान गंगूबाई के हाथ में आ गई। ऐसा कहा जाता है कि गंगूबाई किसी भी लड़की को उसकी बिना मर्जी के कोठे में नहीं रखती थीं।

आखिरी फिल्म कलंक में नजर आईं थी आलिया

गंगूबाई की इस कहानी को भंसाली अपनी फिल्म के माध्यम से लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं। आलिया की लेटेस्ट फिल्म की बात करें तो आखिरी बार वो करण जौहर की फिल्म कलंक में नजर आईं थीं। फिल्म फ्लॉप साबित हुई, वहीं उससे पहले वो रणवीर सिंह के साथ फिल्म गली ब्वॉय में नजर आईं थीं। फिल्म सुपरहिट साबित हुई थी और आलिया-रणवीर ने सभी का दिल जीत लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here