आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा दिलाने के लिए मोदी सरकार के खिलाफ अनशन पर बैठे चंद्रबाबू नायडू

0
7
PTI7_21_2018_000063B

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात की तरह उनके राज्य में भी राजधर्म का पालन नहीं किया. हमें वह देने से इनकार कर दिया गया जिस पर हमारा अधिकार है.आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने केन्द्र से राज्य को विशेष दर्जा देने की मांग को लेकर सोमवार को यहां एक दिवसीय अनशन शुरू किया.

नई दिल्लीः आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू ने केंद्र सरकार द्वारा राज्य को विशेष दर्जा देने और 2014 में आंध्र प्रदेश के विभाजन से पहले किए गए सभी वादों को पूरा करने की मांग को लेकर सोमवार को दिल्ली में एकदिवसीय अनशन शुरू किया.

तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख नायडू आंध्र प्रदेश भवन में अनशन पर बैठे हैं.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, नायडू ने अनशन शुरू करने से पहले राजघाट पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की. विभिन्न विपक्षी दलों के कई नेता नायडू के प्रति एकजुटता दिखा सकते हैं. नायडू मंगलवार को राष्ट्रपति कोविंद को एक ज्ञापन भी सौपेंगे.

आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा नहीं दिए जाने से नाराज नायडू की पार्टी तेदेपा मार्च 2018 में भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए से अलग हो गई थी.

नायडू का कहना है कि यह आंध्र प्रदेश के आत्म सम्मान का मामला है और केंद्र सरकार को 2014 में राज्य के विभाजन से पहले किए गए सभी वादों को पूरा करना चाहिए.

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी पर राजधर्म का पालन नहीं करने का आरोप लगाते  हुए नायडू ने कहा, ‘(पूर्व प्रधानमंत्री) अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि गुजरात (2002 के दंगों के दौरान) में राजधर्म का पालन नहीं हुआ. अब, आंध्र प्रदेश के मामले में भी राजधर्म का पालन नहीं हो रहा है. हमें वह देने से इनकार कर दिया गया जिस पर हमारा अधिकार है.

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने आंध्र प्रदेश के साथ बहुत अन्याय किया है और इससे देश की एकता प्रभावित होगी.

नायडू ने कहा, ‘आज हम केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध जताने आए हैं. कल धरने से एक दिन पहले प्रधानमंत्री ने आंध्र प्रदेश के गुंटूर का दौरा किया. मैंने पूछना चाहता हूं कि इसकी क्या जरूरत थी.’

नायडू ने रविवार को प्रधानमंत्री मोदी के आंध्र प्रदेश के गुंटूर के दौरे को लेकर निशाना साधते हुए कहा, ‘अगर आप हमारी मांगें पूरी नहीं करेंगे तो हमें पता है उन्हें कैसे पूरा कराया जाना है. यह आंध्र प्रदेश के लोगों के आत्म सम्मान का सवाल है. जब भी हमारे स्वाभिमान पर हमला होगा, हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे. मैं इस सरकार को और विशेष रूप से प्रधानमंत्री मोदी को चेतावनी दे रहा हूं कि निजी हमले करना बंद करें.’

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने गुंटूर में अपनी रैली के दौरान नायडू को लोकेश का पिता कहकर संबोधित किया था, जिसका जवाब देते हुए नायडू ने कहा, जब आपने मेरे बेटे का हवाला दिया है तो मैं आपकी पत्नी का जिक्र कर रहा हूं. क्या लोगों को पता है कि नरेंद्र मोदी पत्नी भी हैं. उनका नाम जसोदा बेन हैं.  नायडू ने यह बातें विजयवाड़ा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here