महिला पैसेंजर अपने बच्चे को एयरपोर्ट पर भूली, पायलट ने इमरजेंसी बताकर लिया यू-टर्न

0
9

घटना का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें एटीसी स्टाफ अपने साथी से ये पूछ रहा है कि ऐसी स्थिति के लिए क्या नियम हैं? इसके बाद वह पायलट को समस्या दोहराने के लिए कहता है.

आमतौर पर फ्लाइट को वापस आने की अनुमति तभी मिलती है जब कोई इमरजेंसी जैसी स्थिति हो. लेकिन सऊदी अरब में एक पायलट ने तब फ्लाइट को वापस ले जाने का फैसला किया जब उसे पता चला कि एक महिला पैसेंजर ने अपने बच्चे को एयरपोर्ट पर ही छोड़ दिया है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, फ्लाइट SV832 जेद्दाह से कुआलालांपुर के लिए उड़ान भर चुकी थी. तभी सऊदी अरब की रहने वाली महिला ने बताया कि उसका बच्चा एयरपोर्ट पर ही छूट गया है. पायलट ने एयर ट्रैफिक कंट्रोलर से संपर्क किया.

घटना का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें एटीसी स्टाफ अपने साथी से ये पूछ रहा है कि ऐसी स्थिति के लिए क्या नियम हैं? इसके बाद वह पायलट को समस्या दोहराने के लिए कहता है. पायलट बताता है कि महिला बच्चे को किंग अब्दुल अजीज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भूल गई है और यात्रा जारी रखने से इनकार कर दी है.

इसके बाद एटीसी फ्लाइट को वापस लैंड करने की अनुमति दे देता है. सोशल मीडिया पर मानवीयता के आधार पर फैसले लेने के लिए पायलट की काफी तारीफ हो रही है. वहीं कई लोग मां को बच्चा भूल जाने के लिए आलोचना भी कर रहे हैं.

हालांकि, ये साफ नहीं है कि फ्लाइट स्टार्ट होने के कितनी देर बाद महिला को अपनी गलती का अहसास हुआ. बीते साल जर्मनी में भी ऐसा मामला सामने आया था. तब पुलिस ने बताया था कि एक कपल अपनी बेटी को एयरपोर्ट पर भूल गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here