जम्मू: NaPakHarkat at LOC – सीमावर्ती अरनिया इलाके में लोगों ने एक पाकिस्तानी कबूतर को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। कबूतर पर उर्दू में अक्षर और एक नंबर लिखा था। कबूतर को अरनिया के देवीगढ़ इलाके में सेना के शिविर के पास उड़ते हुए सोहन लाल नामक व्यक्ति ने देखा।

कबूतर पर उर्दू में कुछ लिखा देख उसे शक हुआ। सोहन ने कबूतर को पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने कबूतर पर लिखे अक्षरों को पढ़ा तो पता चला कि उस पर रफीकी जट्ट नाम लिखा था। इसके साथ ही नंबर डी345-4650397 लिखा था।

पुलिस लिखे नंबर को डी-कोड करने का प्रयास कर रही है। पुलिस का कहना है कि नाम तो कबूतर के मालिक का हो सकता है, लेकिन उस पर लिखा नंबर संदेह पैदा कर रहा है।

पुलिस को कबूतर के जासूसी में इस्तेमाल होने की भी आशंका है। पुलिस इस नंबर की जांच कर रही है ताकि उससे कुछ जानकारी मिल सके।

सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि इस तरह से कैमरों के साथ पक्षियों को भेज कर पाकिस्तानी जासूसी भी करवा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here