JNU पर चैनल के स्टिंग में दावा- एबीवीपी के सदस्यों ने की थी मारपीट

0
40

जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर सोशल मीडिया पर एक समाचार चैनल के स्टिंग ऑपरेशन पर चर्चा हो रही है.

समाचार चैनल आज तक ने पांच जनवरी को दिल्ली के जेएनयू में छात्रों पर हुए हमले को लेकर एक स्टिंग ऑपरेशन दिखाया है.

इस स्टिंग ऑपरेशन में समाचार चैनल ने जेएनयू में नक़ाब पहनकर छात्रों से मारपीट करने वालों से बातचीत करके पूरे मामले की पोल खोलने का दावा किया है.

जब जेएनयू में हिंसा की ख़बर आई थी तो कुछ नक़ाबपोशों का वीडियो और तस्वीरें वायरल हुई थीं. इनमें एक लड़की भी नज़र आ रही थी.

आज तक ने दावा किया है कि लड़की का नाम कोमल शर्मा है और वह दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा है और छात्र संगठन एबीवीपी से जुड़ी है.

चैनल का कहना है कि इस बात की पुष्टि हुई है कि पांच जनवरी को कोमल शर्मा जेएनयू में मौजूद थीं.

मुंबईइमेज कॉपीरइटSUPRIYA SOGLE/BBC
Image captionजेएनयू में हमले के विरोध में देश के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन हुए थे.

इससे एक दिन पहले ही चैनल ने JNUTapes स्टिंग के पहले हिस्से के तहत एक वीडियो दिखाया था जिसमें एक युवक कैमरे पर हिंसा में शामिल रहने की बात स्वीकार रहा था.

चैनल का दावा है कि अक्षत अवस्थी नाम का यह युवक जेएनयू में फ्रेंच डिग्री प्रोग्राम में पहले साल का छात्र है और ख़ुद को एबीवीपी का सदस्य बताता है. इसके अलावा रोहित शाह नाम के युवक ने भी हिंसा में शामिल रहने की बात स्वीकारी थी.

चैनल का दावा है उसके स्टिंग में दिखने वाले छात्र की ओर से दी गई जानकारियों के आधार पर दिल्ली पुलिस ने उस व्हाट्सऐप ग्रुप का पता लगा लिया है, जिसमें हिंसा को लेकर बातचीत हुई थी और उसके 60 में से 50 सदस्यों की पहचान कर ली गई है.

चैनल ने अपने स्टिंग ऑपरेशन में यह भी दिखाया है कि वामपंथी संगठन से जुड़े छात्रों ने पांच जनवरी से एक दिन पहले विश्वविद्यालय का इंटरनेट सर्वर उखाड़ा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here