कानपुर। सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि सीमा पर सैनिकों की शहादत पर भाजपा राजनीति कर रही है, जनता को इसे समझना होगा। कहा, हमारी सरकार बनी तो शहीद के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी। बुधवार को वह कन्नौज लोकसभा क्षेत्र से जुड़े रसूलाबाद विधानसभा क्षेत्र में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उनके साथ कन्नौज से प्रत्याशी पत्नी डिंपल यादव भी मौजूद थीं।

मौसम खराब होने के चलते अखिलेश यादव जनसभा में करीब डेढ़ घंटे देरी से पहुंचे। सभा में उन्होंने नाम लिये बगैर कहा कि चौकीदार ने उघोगपतियों को लाभ पहुंचाया है। वह लगातार जनता से झूठ बोल रहे हैं। अच्छे दिन आने और दो करोड़ नौकरियां देने की बात कहने वालों की बातें हवा हवाई साबित हुई हैं। रोजगार की बात पूछने पर वे पकोड़े बनाने की बात कह रहे हैं।

भाजपा वाले ला रहे विदेशी तेल

सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जनता से संवाद के अंदाज में पूछा कि पकोड़े सरसों के तेल के अच्छे होते हैं कि विदेशी तेल के। यह भाजपा वाले विदेशी तेल ला रहे हैं और सरसों के तेल की कीमत किसानों को नहीं दे पा रहे हैं। किसानों की आय दोगुनी करने की बात कहने वाली भाजपा सरकार के बारे में उन्होंने किसानों से पूछा क्या उनकी आय दोगुनी हुई है क्या। वे केवल अमीरों के ही प्रधानमंत्री हैं।

ताजा किया नोटबंदी का दर्द

सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जनता के समक्ष नोटबंदी का दर्द ताजा किया। कहा, नोटबंदी की बात क्षेत्रीय लोग अभी भूले नहीं होंगे, उस समय बैंकों की लाइनों में खड़े हुए अनेक लोग मर गए थे। रसूलाबाद में नोट बंदी के लिए लाइन में खड़ी महिला ने बच्चे को जन्म दिया था। जिसे उन्होंने खजांची नाथ नाम दिया और उसके लिए 48 घंटे में मकान बनवा कर ननिहाल में और एक ददिहाल में दिया। इस मकान से उन्होंने मौजूदा सरकार के मुख्यमंत्री ‘बाबा जी’ को उदाहरण पेश किया था कि जनता के लिए ऐसे मकान बनवाएं।

सपा सरकार के बाद बाबा जी मुख्यमंत्री बने तो आवास को गंगाजल से धुलवाया। ऐसा किसी मुख्यमंत्री ने नहीं किया होगा, भाजपा जातियों में झगड़ा करवा कर राज करना चाहती है। हमारा लक्ष्य सभी को आबादी के हिसाब से सम्मान मिलना चाहिए, हम झगड़ा कर नहीं सकते। उनकी बात पर भीड़ ने हां में हां मिलाया।

भाजपा ने सीमा पर जवानों को कराने का काम किया

अखिलेश यादव ने कहा कि इस सरकार नोटबंदी के दौरान एकत्र धन को उद्योगपतियों को दे दिया, जो धन लेकर बाहर चले गए। भाजपा सीमा की सुरक्षा की बात कर रही है लेकिन हमारी सीमाएं तो सदैव जवानों के सहारे सुरक्षित रहती हैं। कहा, भाजपा ने जवानों को सीमा पर शहीद करवाने का काम किया है। सीमा पर सैनिक शहीद हो रहे हैं और भाजपा उसपर राजनीति कर रही है। शहीद के परिवारों को विशेष सम्मान भी नहीं दिया है। उनकी सरकार बनने पर शहीद के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये आर्थिक मदद दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here