40 C
Kanpur,in
Monday, May 20, 2019

PM मोदी की पत्नी की चिंता न करें, अब शादी कर लें मायावती-रामदास अठावले

9
0
केंद्र सरकार में मंत्री रामदास अठावले ने बसपा मुखिया मायावती पर हमला बोला है। कल अठावले ने कहा कि मायावती पीएम मोदी की पत्नी की चिंता न करें। अब वह अपनी शादी कर लें तो ठीक रहेगा।

वाराणसी- लोकसभा चुनाव 2019 में गठबंधन के प्रत्याशियों के प्रचार के दौरान बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती को पीएम नरेंद्र मोदी की पत्नी के बारे में चिंता करने पर अब जवाब मिलने लगा है। केंद्र सरकार में मंत्री रामदास अठावले ने बसपा मुखिया मायावती पर हमला बोला है। कल अठावले ने कहा कि मायावती पीएम मोदी की पत्नी की चिंता न करें। अब वह अपनी शादी कर लें तो ठीक रहेगा।

वाराणसी में कल रामदास अठावले ने मीडिया को संबोधित किया। इस दौरान रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष व केंद्रीय राज्यमंत्री रामदास अठावले ने कहा कि मायावती जानती हैं कि मोदी की पत्नी शिक्षिका हैं। उनके ऊपर किसी का भी व्यक्तिगत हमला करना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि मायावती को पहले शादी कर लेनी चाहिए, फिर टिप्पणी करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मायावती को पीएम मोदी की पत्नी की चिंता नहीं करना चाहिए, बल्कि उन्हें खुद शादी कर लेनी चाहिए। इसके बाद उनको भी अनुभव हो जाएगा।

केंद्रीय मंत्री अठावले ने कहा कि मनुवादी बोलने वाली माया ने तीन बार भाजपा के सहयोग से सरकार बनाई। उस समय सत्ता सुख चाहिए था तो भाजपा मनुवादी नहीं थी। 2014 में जब लोकसभा चुनाव में जीरो पर आ गईं तो भाजपा पर हमलावर हो गई हैं। इस बार के चुनाव में उन्हें समझ में आ जाएगा कि नींद किसकी उड़ी है। अठावले ने कहा कि गठबंधन पूरी तरह से फेल है और पूरे देश में दलित हमारे साथ हैं। अठावले ने कहा कि मायावती ने अपने खिसकते वोट बैंक और पिछड़ी जातियों के मोहभंग से बौखलाकर ही समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से हाथ इस बार मिलाया।

पीएम के चुनाव प्रचार के लिए काशी पहुंचे केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्य मंत्री रामदास अठावले ने बंगाल सरकार और ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली के दौरान हुई हिंसा को राज्यमंत्री ने लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा बताया। बंगाल के हालात उन्होंने कहा कि ममता घबरा गई हैं। अमित शाह के रोड शो के दौरान जो हिंसा हुई, तृणमूल को पता है कि किसने किया। पिछड़ों और दलितों का कल्याण केंद्र की मोदी सरकार में ही हुआ है।

यूपी और महाराष्ट्र में सीट कम होने की भविष्यवाणी

23 मई को आने वाले परिणामों पर अठावले ने उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र में सीट कम होने की भविष्यवाणी भी कर डाली। हालांकि उन्होंने कम हो रही सीटों की भरपाई ओडिशा, बंगाल और दक्षिण भारत में बढऩे वाली सीटों से होने की बात कही। वाराणसी का जिक्र करते हुए अठावले ने कहा यहां मोदी मैजिक का पूरा असर दिख रहा है। राज्यमंत्री के मुताबिक गठबंधन की लड़ाई कांग्रेस से है। गठबंधन भाजपा से सीधी लड़ाई में नहीं दिख रहा है। इसके साथ ही रामदास अठावले ने महागठबंधन और अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा। उन्होंने अखिलेश यादव के देश को नया प्रधानमंत्री मिलने वाले बयान पर कहा अखिलेश यादव को नहीं दिखाई देगा, लेकिन पूरे देश को, देश की जनता को नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री के रूप में दिखाई देंगे।

आरपीआइ पिछड़ों की असली पार्टी

महाराष्ट्र के दिग्गज नेता ने कहा कि रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया ही पिछड़ों की असली पार्टी है। देश के पिछड़े वर्ग के भले के लिए ही उनकी पार्टी ने भाजपा व मोदी का साथ दिया है। आरपीआइ मुखिया ने बसपा मुखिया मायावती को हाथी चुनाव चिन्ह वापस लेने की सलाह दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here