एक आरटीआई के जवाब में आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने कहा कि विजय गोयल, प्रकाश जावड़ेकर, निर्मला सीतारमण और सुषमा स्वराज समेत कई केंद्रीय मंत्रियों ने अपने सरकारी बंगलों के फरवरी तक के बकाया का भुगतान नहीं किया है.

आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने कहा है कि विजय गोयल, प्रकाश जावड़ेकर, निर्मला सीतारमण और सुषमा स्वराज समेत कई केंद्रीय मंत्रियों ने अपने सरकारी बंगलों के फरवरी तक के बकाया का भुगतान नहीं किया है.

मंत्रालय ने एक आरटीआई के जवाब में कहा कि केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और पूर्वोतर क्षेत्र विकास राज्य मंत्री जितेन्द्र सिंह ने भी अपने बंगलों के बकाया का भुगतान नहीं किया है.

मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि यह बकाया बंगले में उपलब्ध फर्नीचर तथा अन्य वस्तुओं से संबंधित है. मंत्रालय के अनुसार, नकवी और सिंह पर इस अवधि के दौरान क्रमश: 1.46 लाख और 3.18 लाख रुपये बकाया हैं.

अजीत कुमार सिंह द्वारा दायर आरटीआई पर 26 अप्रैल को दिये गए जवाब में यह जानकारी दी गई है. केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय के तहत आने वाला संपदा निदेशालय राष्ट्रीय राजधानी में केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों को बंगले आवंटित करता है.

जवाब में कहा गया है कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर फरवरी तक 53, 276 रुपये बकाया है जबकि प्रकाश जावड़ेकर ने 86,923 रुपये के बकाया का भुगतान नहीं किया है.

इसके अलावा संसदीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल ने भी करीब तीन लाख रुपये का भुगतान नहीं किया है जबकि कृषि राज्य मंत्री गजेन्द्र सिंह पर फरवरी तक का 2,88,269 रुपये बकाया है.

आरटीआई के जवाब में निदेशालय ने कहा है कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पर भी इस अवधि तक 98,890 रुपये बकाया हैं. संपदा निदेशालय बकाया राशि का भुगतान करने वाले मंत्रियों और सांसदों को ‘नो डिमांड सर्टिफिकेट’ जारी करता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here