लोगों ने कार्यक्रम में शामिल होने आए जिग्नेश मेवानी-खालिद का किया विरोध

0
6

नई दिल्ली। गीता कालोनी में एक कार्यक्रम में पहुंचे गुजरात के विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवानी और जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद को विरोध का सामना करना पड़ा। हालांकि यह विरोध कार्यक्रम के समाप्त होने के बाद हुआ। दोनों जब वापस लौटने लगे तो लोगों ने विरोध शुरू कर दिया। कुछ लोगों द्वारा जूते फेंके जाने की भी खबर है।

पुलिस के पास नहीं दर्ज है मामला

इस संबंध में पुलिस की तरफ से कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। गीता कॉलोनी के रानी गार्डन स्थित एक पार्क में शुक्रवार रात को कार्यक्रम था। पुलिस उपायुक्त मेघना यादव ने कहा कि कार्यक्रम के दौरान कुछ भी नहीं हुआ था। किसी ने जूते नहीं फेंके थे। जाते समय बाहर कुछ बाहरी लोगों ने हंगामा किया था। जूता फेंके जाने के बारे में जानकारी नहीं है।

पुलिस के पास नहीं दर्ज है मामला

इस संबंध में पुलिस की तरफ से कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। गीता कॉलोनी के रानी गार्डन स्थित एक पार्क में शुक्रवार रात को कार्यक्रम था। पुलिस उपायुक्त मेघना यादव ने कहा कि कार्यक्रम के दौरान कुछ भी नहीं हुआ था। किसी ने जूते नहीं फेंके थे। जाते समय बाहर कुछ बाहरी लोगों ने हंगामा किया था। जूता फेंके जाने के बारे में जानकारी नहीं है।

पुलिकर्मियों ने लोगों को कराया शांत

यह जरूर है कि हंगामा करने वाले लोगों को मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने शांत किया और मेवानी और खालिद को वहां से रवाना किया गया। वहीं आसपास के लोगों के मुताबिक विरोध कर रहे लोगों ने मेवानी औश्र खालिद का विरोध करते हुए उनपर जूते फेंके। आयोजकों का कहना है कि कार्यक्रम शांतिपूर्वक रहा हालांकि कुछ लोगों ने उस दौरान माहौल बिगाड़ने की कोशिश की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here