Home देश नए रिफॉर्म्स से अर्थव्यवस्था को मिलेगी गति-बजट पर बोले पीएम मोदी

नए रिफॉर्म्स से अर्थव्यवस्था को मिलेगी गति-बजट पर बोले पीएम मोदी

0
नए रिफॉर्म्स से अर्थव्यवस्था को मिलेगी गति-बजट पर बोले पीएम मोदी

देश को संबोधित करते हुए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने वित्त मंत्री द्वारा शनिवार (1 फरवरी) को सदन में पेश किए गए बजट 2020 की सराहना करते हुए निर्मला सीतारमण और पूरी बजट टीम को बधाई दी है। उन्होंने कहा, “मैं इस दशक के पहले बजट के लिए, जिसमें विजन और एक्शन दोनों है। वित्त मंत्री और उनकी टीम को बहुत-बहुत बधाई देता हूं।” आगे पीएम मोदी ने कहा, “रोजगार के प्रमुख क्षेत्र एग्रीकल्चर, इंफास्ट्रक्चर, टेक्सटाइल और टेक्नोलॉजी होते हैं । रोजगार को बढ़ाने के लिए इन चारों पर इस बजट में बहुत जोर दिया गया है।” बता दें कि निर्मला सीतारमण ने 2 घंटा 41 मिनट के अपने बजट भाषण में कई नए योजनाओं का ऐलान किया है जिसमें नए टैक्स रेट, किसानों के लिए 16 प्वाइंट एजेंडा जैसे कई घोषणाएं शामिल है।

वहीं, बजट पेश करने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि इस बजट के जरिए हमने टैक्स सिस्टम को आसान बनाया है। लोगों के हाथ में ज्यादा पैसा दिया है। उन्होंने कहा कि लोगों को ये सुविधा दी गई है कि वो अपनी मर्जी के मुताबिक टैक्स देने का विकल्प चुनें। आगे कहा कि अब लोग बिना टैक्स एक्सपर्ट के टैक्स भर सकेंगे। साथ ही रिटायरमेंट फंड पर टैक्स छूट मिलती रहेगी।

‘नए रिफॉर्म्स से अर्थव्यवस्था को गति’

 पीएम मोदी ने कहा कि बजट में जिन नए  रिफॉर्म्स का ऐलान किया गया है उससे अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी। हम प्रत्येक नागरिक को आर्थिक रूप से सशक्त करने और इस दशक में अर्थव्यवस्था की नींव को मजबूत करने का काम करेंगे। उन्होंने कहा, “मुझे विश्वास है कि ये बजट आमदनी और निवेश को बढ़ाने के साथ डिमांड और कंजप्शन को भी बढ़ावा मिलेगा। ये बजट देश की वर्तमान आवश्यकताओं के साथ ही इस दशक में भविष्य की अपेक्षाओं की पूर्ति करेगा।”

‘किसानों के लिए कई महत्वकाक्षी योजनाएं’

पीएम ने कहा, “किसानों के लिए अपने उत्पादों को सही तरह से बाजार में लाने और ट्रांसपोर्ट के लिए ‘किसान रेल’ और ‘कृषि उड़ान’ के द्वारा नई व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि मिनिमम गवर्नमेंट और मैक्सीमम गवर्नेंस की बात को इस बजट ने ज्यादा मजबूत किया है।

कॉमन परीक्षा के जरिए होगी नियुक्ति

उन्होने कहा, “आज सरकारी नौकरी के लिए युवाओं को कई अलग-अलग परीक्षाएं देनी होती हैं। इस व्यवस्था को बदलकर अब नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी द्वारा ऑनलाइन कॉमन परीक्षा के माध्यम से नियुक्तियां की जाएंगी। आगे कहा, “स्टार्ट अप्स और रीयल इस्टेट्स के लिए भी टैक्स में छूट दिए गए हैं। ये सभी फैसले अर्थव्यवस्था को तेज गति से बढ़ाने और इसके जरिए युवाओं को रोजगार के नए अवसर उपलब्ध कराएंगे। अब हम इनकम टैक्स की व्यवस्था में ‘विवाद से विश्वास’ के सफर पर चल पड़े हैं।

DDT से आएंगे पैसे

पीएम मोदी ने कहा कि डिविडेंट डिस्ट्रिब्यूशन टैक्स हटाने के कारण कंपनियों के हाथ में अब 25 हजार करोड़ रुपए आएंगे जो उनको आगे निवेश करने में मदद करेंगा। बाहर के निवेशक को भारत में निवेश करने को लेकर आकर्षित करने के लिए विभिन्न टैक्स दर में रियायत दिए गए हैं। उन्होंने कहा, “आधुनिक भारत के लिए न्यू इंफ्रास्ट्रक्चर का महत्व बढ़ा है। 100 लाख करोड़ रुपए से 65 सौ प्रोजेक्ट्स का निर्माण इस क्षेत्र रोजगार के अत्यधिक अवसर उपलब्ध कराएंगा। आगे कहा, “आयुष्मान भारत योजना ने देश के हेल्थ सेक्टर को नया विस्तार दिया है। इस सेक्टर में डॉक्टर, नर्स, अटेनडेंट के साथ ही मेडिकल यंत्र मैन्यूफैक्चरिंग का ज्यादा स्कोप बना है। इसे बढ़ाने के लिए सरकार ने कई नए निर्णय लिए हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here