SCO समिट: सामने बैठे थे इमरान, आतंकवाद पर जमकर बरसते रहे PM मोदी

0
6

प्रधानमंत्री मोदी जब SCO के मंच पर आतंकवाद को लताड़ रहे थे तब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी वहां पर मौजूद थे. प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कई अहम मुद्दों पर बात की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर आतंकवाद के मुद्दे को दुनिया के सामने उठाया है. बिश्केक में जारी शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) समिट में शुक्रवार को PM मोदी ने कहा कि सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए साथ में आना होगा और इसका सफाया करना होगा. प्रधानमंत्री मोदी जब SCO के मंच पर आतंकवाद को लताड़ रहे थे तब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी वहां पर मौजूद थे. प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कई अहम मुद्दों पर बात की.

आतंकवाद पर अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस

पीएम मोदी ने इस दौरान सभी SCO सदस्यों से अपील की है कि हमें आतंकवाद के मुद्दे पर एकजुट होना होगा और आतंकवाद के मुद्दे पर ही अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस को बुलाना होगा. PM मोदी इस बात का जिक्र श्रीलंका और मालदीव के दौरे पर भी किया था.

श्रीलंका आतंकी हमले का किया जिक्र

प्रधानमंत्री ने कई नेताओं के सामने कहा कि मैं बीते हफ्ते श्रीलंका की चर्च में गया था, जहां पर चर्च में आतंकियों ने हमला किया था. हम सभी को आतंक के खिलाफ एकजुट होना चाहिए. SCO सदस्यों को आतंकवाद का सफाया करने के लिए एक होना चाहिए.

मासूमों की जान लेता है आतंकवाद

पीएम मोदी ने कहा कि आतंक से निपटने के लिए हमें एक होना होगा और अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन करना चाहिए. आतंकवाद रोज मासूमों बच्चों की जान लेता है. आतंक का सफाया जरूरी है और इसे निपटाने के लिए सभी को साथ आना होगा.

कनेक्टविटी पर भी दिया जोर

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि आधुनिक समय में कनेक्टविटी बेहद जरूरी है. लोगों का आपस में संपर्क होना भी जरूरी है, जल्द ही भारत की वेबसाइट पर रूस की टूरिज्म की जानकारी भी होगी. इसके अलावा अफगानिस्तान के लोगों के साथ मिलकर हम आगे बढ़ेंगे. PM मोदी ने इस दौरान अफगानिस्तान में भारत की तरफ से चलाई जा रही योजनाओं का भी जिक्र किया. साथ ही SCO देशों के बीच हेल्थ, टूरिज्म समेत अन्य सेक्टरों को बढ़ाने का जिक्र किया.

जलवायु संकट पर पीएम की नजर

पीएम मोदी ने कहा कि बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली की जरूरत है. जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए भारत प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि भारत जलवायु परिवर्तन को लेकर सकारात्मक कदम उठा रहा है.

गौरतलब है कि इससे पहले भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब श्रीलंका गए थे, तब भी उन्होंने आतंकवाद के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस की बात कही थी. एससीओ समिट में ऐसे कई मौके आए हैं, जब इमरान खान और नरेंद्र मोदी का आमना सामना हुआ है. हालांकि, हर बार दोनों नेताओं के बीच कोई भी संवाद नहीं हुआ.

SCO सम्मेलन: पाक पर बरसे पीएम मोदी, कहा- आतंकवाद का समर्थन करने वाले देश को जिम्मेदार ठहराना जरूरी

SCO Summit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान को घेरा और कहा कि आतंकवाद को प्रोत्साहन, समर्थन और वित्त प्रदान करने वाले राष्ट्रों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है. किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में आयोजित शिखर सम्मेलन में बोल रहे थे.

बिश्केक: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के दूसरे दिन आतंकवादियों को पनाह देने वाले देश पाकिस्तान पर जमकर बरसे. पीएम मोदी ने पाकिस्तान का नाम तो नहीं लिया लेकिन इशारों-इशारों में उसे लताड़ लगाई. उन्होंने कहा कि आतंकवाद रोज मासूमों की जान लेता है. सभी को इसके खिलाफ कदम उठाना चाहिए. आतंकवाद का साथ देने वाले देशों को जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए.

पीएम मोदी किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में एससीओ शिखर सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने श्रीलंका में हुए बर्बर आतंकी हमलों का जिक्र करते हुए आतंकवाद पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करने का भी आह्वान किया. श्रीलंका में हाल ही में हुए बम धमाकों में सात भारतीयों समेत करीब 250 लोगों की मौत हुई थी.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की मौजूदगी में पीएम मोदी ने कहा, ”पिछले रविवार को श्रीलंका की अपनी यात्रा के दौरान मैं सेंट एंटनी के चर्च गया था वहां मुझे आतंकवाद के उस घिनौने चेहरे का स्मरण हुआ जो हर कहीं भी प्रकट होकर मासूमों की जान लेता है. इस खतरे से निपटने के लिए सभी मानवतावादी ताकतों को अपने संकीर्ण दायरे से निकलकर एकजुट हो जाना चाहिए.”

उन्होंने आगे कहा, ”आतंकवाद को प्रोत्साहन, समर्थन और वित्त प्रदान करने वाले राष्ट्रों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है. एससीओ सदस्यों को आतंकवाद का सफाया करने के लिए पूरी शक्ति का इस्तेमाल करना चाहिए. भारत आतंकवाद से निपटने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय स्तर का सम्मेलन का आह्वान करता है.”

आपको बता दें कि पीएम मोदी अपने बिश्केक दौरे पर पाकिस्तान को कड़ा कूटनीतिक संदेश दे रहे हैं. कल और आज दोनों दिन पीएम मोदी और इमरान खान आमने-सामने आए लेकिन दोनों नेताओं के बीच दुआ-सलाम भी नहीं हुआ. दोनों अलग-अलग दिखाई दिए.

यही नहीं प्रधानमंत्री मोदी ने कल चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात के दौरान भी आतंकवाद के मुद्दे उठाए और कहा कि पाकिस्तान से तब तक बातचीत संभव नहीं है जबतक कि वह आतंकवाद के खिलाफ ठोस कदम नहीं उठाता है.

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन गुरुवार को शुरू हुआ था और आज इसका समापन होगा. इस सम्मेलन में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी, किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव समेत कई नेता शामिल हो रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here