कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यह बात मध्य प्रदेश के मंदसौर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कही

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘बादल और रडार’ वाले बयान पर तंज कसा है. खबरों के मुताबिकमध्य प्रदेश के मंदसौर में एक चुनावी रैली में उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री कहते हैं उन्होंने खराब मौसम के दौरान ही वायु सेना को बालाकोट एयर स्ट्राइक करने के लिए कहा था. क्योंकि इसकी वजह से पाकिस्तान के रडार हमारे विमानों को नहीं देख पाएंगे.’ इसके साथ ही सवालिया लहजे में राहुल गांधी ने आगे कहा, ‘मोदी जी जब बारिश होती है तो क्या रडार से सारे विमान गायब हो जाते हैं?’

इस मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष ने नोटबंदी और वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) को लेकर भी प्रधानमंत्री पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के इन दो फैसलों की वजह से देश की अर्थव्यवस्था बदहाल स्थिति में है. इसके साथ ही किसानों की बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी ने मंदसौर में किसानों से उनके साथ रहने का वादा किया था. लेकिन जब उन्हीं की पार्टी की सरकार ने किसानों पर गोलियां चलवाई थीं तो उस वक्त मोदी किसानों के साथ खड़े हुए नहीं दिखे थे.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र के एक गैर राजनीतिक इंटरव्यू का हवाला देते हुए राहुल गांधी ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री ने लोगों को ‘आम खाना’ सिखा दिया, अपने सूटकेस में जगह बनाने के लिए ‘कुर्ते की बांह’ काटना भी सिखा दिया, लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि बीते पांच साल के शासन में उन्होंने लोगों के लिए क्या किया. राहुल गांधी ने कहा कि बीते पांच साल के शासन में उन्होंने देश के गरीबों को जो पीड़ा पहुंचाई है कांग्रेस पार्टी उसकी भरपाई ‘न्याय’ के जरिये करेगी.

इससे पहले फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार को दिए एक इंटरव्यू में मोदी ने कहा था कि बचपन में उन्हें आम खाने का शौक था और इसके लिए वे आम के पेड़ पर चढ़ जाया करते थे. इसके अलावा एक अन्य इंटरव्यू में उन्होंने बालाकोट एयर स्ट्राइक का जिक्र करते हुए कहा था, ‘उस कार्रवाई से पहले रिव्यू किया गया था. साथ ही मौसम खराब होने से वायु सेना ने उस कार्रवाई का वक्त बदलने का सुझाव भी दिया था. लेकिन मैंने कहा कि बारिश और आसमान में छाए बादल हमारे लिए फायदेमंद हो सकते हैं. इससे विमानों को रडार से बचने में मदद मिलेगी.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here