22 C
Kanpur,in
Friday, October 18, 2019

उन्नाव गैस प्लांट में लगी आग पर नियंत्रण, तीन लोग झुलसे

0
11
औद्योगिक क्षेत्र में गुरुवार को करीब 11 बजे हिंदुस्तान फिलिंग गैस प्लांट सेंटर में अचानक आग लग गई। एचपी गैस प्लांट में आग लगने की सूचना आते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया।

उन्नाव- उन्नाव के दहीचौकी औद्योगिक क्षेत्र में गुरुवार दिन में करीब 10 बजे हिंदुस्तान पेट्रोलियम के गैस रीफिलिंग प्लांट में आग लगने से खलबली मच गई। डीएम एसपी समेत प्रशासनिक अफसर और अग्निशमन की दमकल मौके पर पहुंच गई । प्रशासन ने आसपास की फैक्ट्रियों और गांवों को खाली करा लिया। लगभग ढाई घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया है।

आग नियंत्रण में आने के बाद डीएम और एसपी समेत दमकल के जवान प्लांट के अंदर पहुंच आग के कारणों का पता लगा रहे हैं। डीएम देवेंद्र कुमार पांडेय ने दावा किया है आग बुझ चुकी है। स्थिति सामान्य हो गई है। वहीं आग से झुलसे प्लांट के तीन लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अचानक टैंक में भीषण आग लगने  के बाद प्लांट में भगदड़ मच गई। वहां पर मौजूद लोगों ने बताया कि टैंक का वॉल्व लीक होने के बाद आग लगी है।

दहीचौकी और आसपास के गांव तथा फैक्ट्रियों को अब तक खाली कराया जा चुका है।  दो किमी का एरिया सील कर दिया गया है।

इसके पहले आग लगने के बाद हड़कंप मच गया था। दहीचौकी और आसपास के गांव तथा फैक्ट्रियों को खाली करा दिया गया था। दो किमी का एरिया सील कर दिया गया था। साथ ही केंद्रीय विद्यालय समेत शिक्षण संस्थाएं बंद करा स्कूल खाली करा दिए गए। लखनऊ कानपुर हाइवे पर कानपुर-लखनऊ लेन को बंद कर दिया गया था जिसे 12:15 चालू नहीं किया गया है।  उन्नाव शहर से वाहन आगे नहीं बढ़ने दिए जा रहे हैं।

इससे हाइवे पर लंबा जाम लगा है। दो किमी दूर से भी गैस प्लांट में धुआं के गोले उठते दिखाई दे रहे थे इस बीच पांच धमाका भी जिससे प्लांट के सिलेंडर फटने का अनुमान लगा आसपास के लोगों में दहशत फैल गई। गांवों के लोग घर छोड़ खुले स्थानों पर जाकर खड़े हो गए। जब आग बुझी तब राहत की सांस मिली। अगर प्लांट के गैस टैंक फटते तो स्थिति भयावह हो जाती और कई किमी का क्षेत्र आग के गोलों की चपेट में आ जाता।

डीएम देवेंद्र कुमार पांडेय ने बताया अनलोड होने आए टैंकर का वाल्ब खोलते समय रिसाव होने से टैंकर में आग लगी थी। उसी के पांच पहिया फटे थे और आग के गोला व धुआं उठ रहा था। उन्हाेंने बताया आग पर पूर्ण रूप से नियंत्रण पाया जा चुका है। लगभग तीन घंटे तक पूरे क्षेत्र में हड़कंप मचा रहा।

लोग दहशत में रहे हाइवे बंद होने से यात्रियों को भी कठिनाई का सामना करना पड़ा। प्रशासन ने आसपास की फैक्ट्रियों और गांवों को खाली करने में पुलिस और प्रशासन जुट गया। लखनऊ से भी फायर ब्रिगेड की गाडियां रवाना की गई। इसके साथ ही कानपुर से चीफ फायर ऑफिसर समेत अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं।

एचपी गैस रिफिलिंग प्लांट में लगी आग की चपेट में आने से झुलसे सुभाषचंद्र 52 पुत्र धनीराम निवासी आवास विकास, मो. गुफरान 28 पुत्र शरीफ खान निवासी एबीनगर, मो.आसिफ 22 पुत्र अजीज निवासी जमुका अचलगंज को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here