उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह बात पश्चिम बंगाल में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा को लेकर कही है

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसी मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में हुई हिंसा को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है. उस हिंसा को ‘लोकतंत्र की हत्या’ बताते हुए उन्होंने कहा है कि यह घटना ममता बनर्जी सरकार के ताबूत में आखिरी कील बनने जा रही है.

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘प्रदेश की जनता ममता बनर्जी सरकार की एक्सपायरी डेट तय कर चुकी है. 23 मई के बाद पश्चिम बंगाल में राष्ट्रवादी सरकार का शासन होगा. फिर तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के गुंडों को राज्य में सर छुपाने की जगह नहीं मिलेगी.’ खबरों के मुताबिक योगी आदित्यनाथ ने ये बातें पश्चिम बंगाल के बारासात में एक रैली को संबोधित करते हुए कहीं.

बारासात के ही मंच से योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा, ‘मैं अपनी पार्टी के प्रचार के लिए कोलकाता में भी रैली करने आ रहा हूं.’ इसके साथ ही उन्होंने ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने का ठीकरा टीएमसी कार्यकर्ताओं पर फोड़ा. उन्होंने कहा कि टीएमसी के लोगों को ‘जय श्री राम’ के नारों के साथ ‘दुर्गा और सरस्वती पूजा’ से भी दिक्कत है. लेकिन उत्तर प्रदेश में नवरात्र और मुहर्रम जैसे कार्यक्रमों के दौरान कोई समस्या पैदा नहीं होती.

वहीं बुधवार की इस रैली से पहले योगी आदित्यनाथ ने एक ट्वीट के जरिये अपने पश्चिम बंगाल पहुंचने की जानकारी दी. ‘जय श्रीराम’ के अभिवादन के साथ ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए इस ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘आज मैं आपके बीच रहूंगा. तानाशाहों तक यह संदेश पहुंचे कि राम इस देश के कण-कण में हैं, स्वतंत्रता इस देश की जीवनी शक्ति है और मैं बंगाल के क्रांतिधर्मी युयुत्सु का आह्वान कर रहा हूं.’ उन्होंने आगे लिखा, ‘याचना नहीं अब रण होगा, जीवन जय या कि मरण होगा! जय हो.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here